अंधविश्वास पड़ा मां की ममता पर भारी ,मां ने बेटे की गर्दन धड़ से अलग की

1193
पन्ना: घटना मध्य प्रदेश के पन्ना जिले से है, यहां पर अंधविश्वास के चलते एक महिला ने अपने 24 वर्षीय बेटे की सोते समय बलि चढ़ा दी। बताया जा रहा है कि महिला ने यह कदम देवी मां को खुश करने के लिए उठाया। वहीं इस घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। वहीं घटना स्थल पर भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। बता दें कि यह पूरी घटना कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत कोहनी गांव से सामने आई है।

मां ने बेटे को कुल्हाड़ी मार किया कत्ल
जानकारी के मुताबिक, गुरुवार तड़के यहां पर 50 वर्षीय सुनिया बाई लोधी ने अपने बेटे 24 वर्षीय द्वारका लोधी की सोते समय बलि चढ़ा दी। महिला ने अपने बेटे के गले पर कुल्हाड़ी से वार कर उसकी हत्या कर दी। वहीं सुबह करीब चार बजे घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर आ गई। घटना के संबंध में पन्ना कोतवाली थाना प्रभारी अरुण सोनी ने बताया कि बीते दो साल से महिला को दैवीय प्रभाव होने का एहसास होता था।

आरोपी महिला को किया गया गिरफ्तार
इस भाव के आने के बाद महिला ने कुल्हाड़ी से अपने बेटे के गले पर वार कर उसकी हत्या कर दी। थाना प्रभारी ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। साथ ही आरोपी महिला को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। महिला से पूछताछ जारी है। पुलिस को मौके से हत्या के लिए इस्तेमाल की गई कुल्हाड़ी भी बरामद हुई है।

क्या महिला ने चढ़ाया देवी मां को बलि
थाना प्रभारी अरुण सोनी से यह पूछे जाने पर कि क्या महिला ने देवी मां को बलि चढ़ाई है, इस पर उन्होंने बताया कि गांव वालों ने बताया कि उसको ये भाव आते रहते थे और वह कहती थी कि मैं बलि ले लूंगी। उन्होंने कहा कि फिलहाल मामला दर्ज कर लिया गया है और इस संबंध में विस्तृत जांच की जा रही है।

.